Wednesday, March 3, 2021
Home > TOP TECH STORIES > माइक्रो ब्लॉगिंग साइट Koo App पर लगातार बढ़ रही यूजर्स की संख्या; 3 मिलियन से अधिक लोगों ने की ऐप इंस्टाल

माइक्रो ब्लॉगिंग साइट Koo App पर लगातार बढ़ रही यूजर्स की संख्या; 3 मिलियन से अधिक लोगों ने की ऐप इंस्टाल

Koo-App

भारतीय सोशल-मीडिया Koo App लोकप्रियता में कुछ दिनों से लगातार वृद्धि हो रही है /खबर यह है कि अमेरिकी प्रतिद्वंद्वी ट्विटर ने अपने मंच से कुछ सामग्री को अवरुद्ध करने के लिए एक सरकारी आदेश का पालन करने से इनकार कर दिया है।

ट्विटर ने इस महीने नई दिल्ली के 1,100 से अधिक खातों और पदों को हटाने के आदेश दिया है। इसमें सरकार ने कहा है कि ट्वीटर पर यूजर्स नए कृषि कानूनों के खिलाफ चल रहे प्रदर्शन के बारे में गलत सूचना फैला रहे हैं।

विवाद बुधवार को बढ़ गया जब ट्विटर ने कहा कि यह पूरी तरह से कुछ अनुरोधों का अनुपालन नहीं करता है क्योंकि यह माना जाता है कि वे भारतीय कानून के अनुरूप नहीं थे।

नयी Koo App ने जानकारी दी है कि पिछले दो दिनों में इस ऐप पर डाउनलोड्स की सख्या 10 गुना बढ़ गई है। अब इस ऐप को 3 मिलियन से अधिक लोग डाउनलोड कर चुके हैं। बुधवार को भारत में कू ऐप के लिए लगभग 21,000 पोस्ट के साथ ट्विटर का टॉप ट्रेंड था #BanTwitter

Koo App क्या है?

Koo App भारत द्वारा निर्मित एक माइक्रो ब्लॉगिंग साइट है। जो ट्वीटर की तरह ही काम करती है। इसमें यूजर्स आसानी से ऑडियो क्लिप सहित मल्टीमीडिया सामग्री पोस्ट कर सकता है। इस ऐप में आप एक पोस्ट में लगभग 400 वर्णों का इस्तेमाल कर सकते हैं। इसकी एक और ख़ास बात यह है कि यह ऐप अंग्रेजी सहित छह भारतीय भाषाओं का समर्थन करती है।

ट्विटर की तरह, Koo App का लोगो भी एक पक्षी ही है जो पीले रंग का है। यह यूजर्स को  हैशटैग (#) या “@” प्रतीक का उपयोग करने की अनुमति देता है। ऐप उपयोगकर्ताओं को प्रत्यक्ष संदेश के बजाय रिट्वीट और चैट के कू संस्करण को ‘पुनः-कू’ करने की अनुमति देता है।

Koo App के संस्थापक

Koo App को राधाकृष्ण और मयंक बिदावतका द्वारा बनाया गया है ये दोनों संस्थापक वही हैं जिन्होंने इस से पहले क्वोरा के समान एक ऑडियो-वीडियो ज्ञान-साझाकरण मंच, वोकल ऐप बनाई थी। इस एप्लिकेशन को मार्च 2020 में लॉन्च किया गया था, और तकनीक नवाचार के लिए सरकारी पुरस्कार भी जीता था।

Koo App पर कौन है?

ट्विटर के बाद आप Koo App पर बॉलीवुड अभिनेताओं सहित कई मंत्रालयों और हाई-प्रोफाइल हस्तियों ने अपना अकाउंट बनाया है और कुछ लोगों ने इसका उपयोग करना भी शुरू कर दिया है। हाल ही में, प्रौद्योगिकी मंत्रालय और व्यापार मंत्री पीयूष गोयल भी इस ऐप पर आए हैं।

Koo-App-(Play-store)

हालांकि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, अभी तक इस ऐप पर नहीं आए हैं। लेकिन उन्होंने पिछले साल अपने मासिक रेडियो कार्यक्रम पर इस Koo App के बारे में बात की थी। उन्होंने कहा था कि “इसमें हम अपनी राय रख सकते हैं और पाठ, वीडियो या ऑडियो के माध्यम से अपनी मातृभाषा में बातचीत कर सकते हैं।”

कैसे करें डाउनलोड

Koo App के डिवेलपर्स ने इसे iOS और Android प्लैटफॉर्म के लिए उपलब्ध करवा दिया है। आप इसे आसानी से अपने मोबाइल में इंस्टॉल कर सकते हैं। डिवलपर्स ने इसके लिए अलग से वेबसाइट भी तैयार की है, जिसमें ऐप से जुडी बाकी जानकारी मिलती है। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *